कौन से तेल बॉडी मसाज के लिए अच्छे होते है? और उनके क्या-क्या फायदे है?




body msaj oil and benefits

बॉडी मसाज आयल, शरीर की तेल मालिश, तेल मालिश के फायदे, तेल मसाज कैसे करें, तेल मसाज करने के लाभ, तेल मसाज क्यों की जाती है, थकान मिटाने के लिए तेल मसाज, तेल मसाज करने के फायदे, तेल की मालिश शरीर पर करने के फायदे, शरीर पर तेल मसाज करने के लाभ, शरीर पर तेल मालिश करने से क्या क्या होता है, क्यों की जाती है बॉडी मसाज, बॉडी मसाज के लिए विशेष आयल, बॉडी मसाज के लाभ, बॉडी मसाज के फायदे 

आज के समय में हर कोई अपने काम में इतना व्यस्त रहता है की आराम करने का समय ही नहीं मिलता। जिसके कारण बहुत थकान महसूस होती है, ऐसे में थकान दूर करने का एकमात्र उपाय आयल मसाज को ही समझा जाता है। शरीर पर आयल मसाज करने से रक्त का प्रवाह तेज होता है जिससे शरीर की थकान मिटाने में मदद मिलती है।

इसके अलावा तेल मालिश करने से त्वचा में चमक भी आती है और त्वचा टाइट हो जाती है। जिन लोगों के शरीर या चेहरे पर झुर्रियां होती है वे तेल मालिश करें झुर्रियां गायब हो जाएंगी। इसके अलावा भी आयल मसाज करने के बहुत से फायदे होते है। लेकिन इनका फायदा केवल सही तेल के इस्तेमाल से ही मिलता है।

ऐसे तो आपको तेल मालिश के लिए बहुत से ऑप्शन मिल जाएंगे लेकिन कोई भी तेल लगा लेने से बॉडी पर ख़ास प्रभाव नहीं पड़ेगा। जबकि अगर आप सही तेल का इस्तेमाल करेंगे तो फायदा अधिक होता। जैसे सरसो का तेल या फिर जैतून का तेल शरीर पर मसाज करने के लिए लाभकारी होता है।

इससे शरीर का दर्द तो जाता ही है साथ-साथ हड्डियां भी मजबूत होती है। त्वचा को चमकदार बनाने और स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए जैतून का तेल उपयुक्त होता है। इसके अलावा भी बहुत से तेल है जिनका प्रयोग से आप शरीर की मसाज के साथ-साथ स्वास्थ्य से जुड़े फायदे भी पा सकते है।

बॉडी मसाज आयल और उसके फायदे :-

1. जोजोबा आयल :

जोजोबा के पौधे से निकले वैक्स से जोजोबा आयल तैयार किया जाता है जिसके बहुत से फायदे होते है। यह त्वचा से मुहांसे दूर करने के साथ साथ उसे कीटाणुओं से बचाने में भी मदद करता है।

जोजोबा आयल के फायदे :

  • इसकी एंटी बैक्टीरियल प्रकृति पीठ के मुहांसे, त्वचा की एलर्जी और पीठ से जुडी अन्य बिमारियों को दूर करने में मदद करती है।
  • इसमें मौजूद myristic एसिड जलने की समस्या पर बहुत आराम देता है। इसमें एंटी inflammable प्रकृति ड्राई स्किन के लिए एक बेहतर मॉइस्चराइज़र का काम करती है।

2. लेमनग्रास आयल :

इस तेल को सुखी और ताज़ी पत्तियों के एक्सट्रैक्ट से निकाला जाता है। इसे इंडियन वेर्बेना के नाम से भी जाना जाता है। यह तेल विमान यात्रा से हुई थकान और थके हुए शरीर को आराम देने में मदद करता है।

लेमनग्रास तेल के फायदे :

  • यह हमारे नर्वस सिस्टम को मजबूत करके सर दर्द और अन्य तंत्रिका संबंधी समस्यायों में आराम देता है।
  • फ्लू, बुखार जैसी श्वास संबंधी बिमारियों में आराम पहुंचाता है।
  • मांसपेशियों को मुलायम करके उन्ही ऐंठन को कम करने में मदद करता है। साथ ही मांसपेशियों के दर्द, ऐंठन और सूजन को भी कम करता है।

3. स्वीट आलमंड आयल :

बॉडी मसाज के लिए प्रयुक्त होने वाले तेलों में इसे सबसे फायदेमंद और लाभकारी तेल माना जाता है। जैसा की इसके नाम से स्पष्ट होता है की इसे बादाम के एक्सट्रेक्ट से बनाया जाता है जो pale yellow कलर का होता है।

स्वीट आलमंड आयल के फायदे :

  • इसका तेलीय स्वभाव त्वचा को मुलायम बनाने में मदद करता है। और इसकी इसी प्रकृति के कारण त्वचा से अधिक तेजी से अब्सॉर्ब करती है। जबकि जोजोबा आयल की अब्सॉर्प्शन रेट काफी कम होती है। जिसका अर्थ यह है की आपको मसाज का फायदे तभी नहीं कुछ देर बाद मिलता है।
  • यह एक बेहतर आराम देने वाला तरल पदार्थ है जो स्किन को सॉफ्ट करके स्मूथ बनाने में मदद करता है और साथ ही दर्द में भी आराम पहुंचाता है।
  • मांसपेशियों के दर्द और ऐंठन को कम करने में मदद करता है।
  • इसमें मौजूद oleic और linoleic एसिड की अच्छी मात्रा इसे बेहतर बॉडी मसाज आयल बनाती है।

4. नारियल तेल :

इस तेल की बात करें तो, नारियल तेल बहुत भारी और मोटा तेल होता है जिसे ट्रांसफॉर्म करके हल्का, नॉन ग्रीसी और तरल आयल बनाया जाता है। ऐसा इसीलिए किया जाता है ताकि इसका प्रयोग आसानी से किया जा सके।

नारियल तेल के फायदे :

  • इसमें मौजूद lacric और lauric एसिड एक बेहतर एंटी मिक्रोबाल एजेंट है जो त्वचा को हानिकारक विषाणुओं से बचाने में मदद करते है।
  • त्वचा के लिए यह एक बेहतर मॉइस्चराइज़र के रूप में काम करता है जो स्किन पर फैटी एसिड की एक लेयर बनाकर उसमे नमी बनायें रखने में मदद करता।
  • यह स्किन को रुखा होने और फटने से भी बचाता है।
  • इसमें मौजूद विटामिन E त्वचा को फ्रेश और नया बनाए रखने में मदद करता है।
  • इसके एंटी-ऑक्सीडेंट्स एजिंग साइंस को दूर करके स्किन को फ्री रेडिकल्स से बचाने में मदद करता है।

5. एवोकैडो आयल :

एवोकैडो के फल को दबाने से जो भारी और ग्रीनिश आयल निकलता है उसे एवोकैडो आयल कहते है। इसकी हेविन्स के कारण ही इसे अन्य हलके तेलों जैसे आलमंड और जोजोबा आयल के साथ मिक्स करके प्रयोग किया जाता है।

एवोकैडो आयल के फायदे :

  • इसकी हीलिंग, एंटी बैक्टीरियल और एंटी रिंकल प्रकृति बढ़ती उम्र की निशानियों को कम करने में मदद करती है।
  • इसमे मौजूद विटामिन A, D और पोटैशियम रैशेस, eczema और रूखी त्वचा को ठीक करने में मदद करता है।
  • इसके अतिरिक्त इसमें पाए जाने अन्य गुण त्वचा की नमी बरकरार रखने और त्वचा के रूखेपन को दूर करने में मदद करते है।
  • इसकी मोटाई के कारण यह त्वचा में बहुत जल्दी अब्सॉर्ब हो जाता है और मसाज के लिए एक परफेक्ट तेल बनता है।
  • यह शरीर में कोलेजन मेटाबोलिज्म को स्टिमुलेट करके कोशिकाओं के पुनर्निर्माण में मदद करता है।

 

[Total: 1    Average: 3/5]
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *