ब्रैस्ट मिल्क बढ़ाने के नेचुरल तरीके!

  
breastfeeding 1

माँ को शिशु के जन्म के बाद सबसे पहले ममता भरा अहसास तब होता है, जब वो बच्चे को स्तनपान करवाती है, माँ का दूध शिशु के लिए अमृत से कम नहीं होता है, और ये भी कहा जाता है की यदि जन्म के एक घंटे के अंदर शिशु को स्तनपान करवा दिया जाता है, तो इसके कारण शिशु को बीमारियों और संक्रमण से बचाव करने में मदद मिलती है, और इसके कारण माँ और शिशु के बीच का रिश्ता भी गहरा होता है, परन्तु कई बार माँ के स्तन में दूध अच्छे से उतर नहीं पाता है।

इन्हे भी पढ़ें:- स्तनपान कराते समय महिलाएं न भूलें ये बातें

breastfeed

स्तनपान कराने वाली महिला के लिए इससे बड़ा कोई दुःख नहीं होता है की उसके स्तन से अच्छे से दूध नहीं उतर रहा है, जिसके कारण बच्चे को पोषण नहीं मिल पा रहा है, और उसका बच्चा भूखा रह जाता है, और महिला सोचती रहती है की वो किस प्रकार अपने स्तनों में दूध की पर्याप्त मात्रा ला सकती है, जिसके कारण उसके शिशु को भरपूर पोषण मिल सकें, और उसके विकास में मदद मिल सकें और इसके लिए आपको किसी प्रकार कि दवाइयों का सेवन करने की भी जरुरत नहीं होती है बल्कि आप कुछ नेचुरल तरीको का इस्तेमाल करके ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ा सकते है, और इन नेचुरल तरीको का इस्तेमाल करके महिला पर या उसके शिशु पर कोई बुरा प्रभाव भी नहीं पड़ता है।

ब्रैस्ट मिल्क ढंग से न उतरने के कारण:-

  • कई महिलाएं बच्चे के पोषण और घर की जिम्मेवारियों के कारण तनाव में आ जाती है, जिसके असर भी ब्रैस्ट मिल्क पर पड़ता है और स्तनों में अच्छे से दूध नहीं उतर पाता है।
  • महिलाओ की नींद पूरी न होने के कारण भी ये समस्या हो सकती है।
  • जो महिलाएं अपने खान पान के प्रति लापरवाही करती है, या जिनके शरीर में पोषक तत्वों की कमी होती है, तो इसके कारंभि महिलाओ के स्तन में अच्छे से दूध नहीं बन पाता है।
  • डिहाइड्रेशन की समस्या होने के कारण भी स्तनों में दूध अच्छे से नहीं उतर पाता है।

मेथी का सेवन करें:-

maithi

मेथी में विटामिन, आयरन, कैल्शियम आदि भरपूर मात्रा में पाया जाता है, इसका सेवन करने से माँ के स्तनों में दूध की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है, इसे कच्चा खाने की जगह आपको इसकी सब्ज़ी बनाकर इसका सेवन करना चाहिए, परन्तु इसका अधिक मात्रा में करने से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है, इसीलिए इसके सेवन के साथ पानी को भी भरपूर मात्रा में पीना चाहिए।

जई के दलिये का सेवन करें:-

यदि किसी महिला के स्तनों में दूध अच्छे से नहीं उतर पाता है, या दूध कम आता है तो नियमित जई का दलिया खाने से उनके स्तनों में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है, क्योंकि इसमें शरीर में दूध की वृद्धि करने वाले पोषक तत्व मौजूद होते है, जिसके कारण बच्चे की भूख अच्छे से मिटती है, और साथ ही उसका विकास भी अच्छे से होने में मदद मिलती है।

तुलसी का सेवन करें:-

tulsi

तुलसी में विटामिन सी की मात्रा भरपूर होती है, जिसके कारण स्तनपान कराने वाली महिला में ब्रैस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद मिलती है, आप इसका सेवन शहद में दाल कर या फिर शहद इ साथ भी कर सकते है, दिन में दो बार इसका सेवन करने से आपको बहुत जल्दी फायदा मिलता है।

करेले का सेवन करें:-

करेले का सेवन करने से महिला में लेक्टेशन सही से हो पाता है, साथ ही इसके अंदर विटामिन और मिनरल्स भी अच्छी मात्रा में पाएं जाते है, जिसके कारण महिला में ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ने में मदद मिलती है, इसे बनाते समय ध्यान रखना चाहिए, की आप हलके मसालों का इस्तेमाल करें, ताकि ये आसानी से हज़म हो सकें और महिला को कोई परेशानी न हो।

लहसुन का सेवन करें:-

ब्रैस्ट मिल्क बढ़ाने के लिए महिला को अपने आहार में लहसुन का सेवन करना चाहिए इससे महिला को बहुत फायदा मिल सकता है, इसके लिए आप कच्चे लहसुन के सेवन से अच्छा इसका सेवन सब्जियों में डाल कर अच्छे से करना चाहिए, अगर आप इसका सेवन रोजाना करती है तो आपको इससे जरूर फायदा होता है।

मेवे का सेवन करें:-

dry-fruits-1

मेवे भी पोषक तत्वों से भरपूर होते है, और ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में मदद होती है, इसीलिए जिन महिलाओ के स्तनों में अच्छे से दूध नहीं उतरता है उन्हें कच्चे मेवे का सेवन करना चाहिए इसे उन्हें बहुत फायदा होता है, और नियमित सेवन से आपको खुद ही इसका असर दिखने लगता है।

स्वस्थ व् संतुलित आहार का सेवन करें:-

बच्चे के जन्म के बाद थोड़े समय तक महिला को अपनी पसंद से थोड़ा परहेज करना चाहिए, और ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए जो की स्वस्थ संतुलित और पौष्टिक हो और जिसमे मिनरल्स भरपूर मात्रा में हो, इसके कारण भी महिला के शरीर में मिनरल्स की मात्रा बढ़ती है, और साथ ही महिला के स्तनों में दूध की मात्रा में भी इजाफा होता है, और बच्चे के विकास में भी मदद मिलती है, आहार के साथ फलों को भी और उनके ताजा रास को भी अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

इन्हे भी पढ़ें:- बच्चे को दूध पिलाने के समय और दूध पिलाने के बाद ध्यान देने योग्य बातें

दूध व् दूध से बने प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें;-

स्तनों में दूध की मात्रा को बढ़ाने के लिए महिला दूध व् दूध से बने डेरी प्रोडक्ट्स का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए, इसके अलावा आप घी या बटर का सेवन भी चावल या रोटी के साथ भी कर सकते है, या फिर सब्ज़ी के के ऊपर से भी डाल कर इसका सेवन कर सकते है, इससे आपको एनर्जी भी मिलती है साथ ही शिशु को भी फायदा होता है।

जीरे का सेवन करें:-

jeera

जीरे का सेवन करने से भी महिला के स्तनों में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है, इसका सेवन आप सब्जियों में दाल कर सकते है, या आप जीरे को भून कर उसका पाउडर बनाकर सब्जियों के ऊपर डाल कर भी इसका सेवन कर सकते है, इसके सेवन से आपको बहुत जल्दी फायदा होता है।

दालों का सेवन करें:-

दालें भी आयरन और फाइबर से भरपूर होती है, जो महिलाएं शिशु को स्तनपान करवाती है उन्हें नियमित एक समय अपने आहार में दाल का सेवन जरूर करना चाहिए ऐसा करने से उनके शरीर में एनर्जी भी आती है, और साथ ही इसके सेवन से शिशुओं के लिए ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में भी मदद मिलती है।

पेय पदार्थो का सेवन भरपूर मात्रा में करें:-

ब्रैस्ट मिल्क के कम होने का कारण डिहाइड्रेशन भी हो सकते है, इसीलिए जितना हो सकें पेय पदार्थो का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए, ऐसा करने से आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होती है, और स्तनों में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है, इसके लिए आप पानी, फ्रेश जूस, दूध आदि का सेवन कर सकते है, और याद रखें की आप घर में निकले हुए फ्रेश जूस का ही इस्तेमाल करें, न की डिब्बा बंद, और नियमित आपको कम से कम आठ से दस गिलास पानी का भी सेवन करना चाहिए इससे आपको फायदा मिलता है।

ब्रैस्ट मिल्क बढ़ाने के अन्य उपाय:-

  • जब भी आप बच्चे को स्तनपान करवाते है तो अपने ब्रैस्ट को अच्छे से दबाना चाहिए इससे भी आपको फायदा मिलता है।
  • शिशु को स्तनपान करवाते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आप बार बार स्तन को बदलते रहें इससे भी स्तनों में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है।
  • ब्रैस्ट को बार बार पंप करने से भी आपके स्तन में दूध को बढ़ाने में मदद मिलता है।
  • शिशु को जितना अधिक आप स्तनपान कराते है उतना ही आपके स्तन में दूध की मात्रा में वृद्धि होती है।
  • दो चम्मच शतावरी को पानी के साथ नियमित रूप से लेने से भी आपको ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • चुटकी भर दालचीनी को शहद के साथ नियमित लेने से आपको कुछ ही दिनों में फायदा मिलता है।
  • हरी सब्जियों का सेवन भरपूर मात्रा में करने से आपको बहुत फायदा मिलता है।
  • सही समय और थोड़ी थोड़ी देर बाद आहार का सेवन करें, इसके कारण आपके शरीर में पौष्टिक तत्वों की वृद्धि होगी और ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।
  • तिल के बीज, खिचड़ी या मीठे आदि में डाल कर इसका सेवन करने से ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • सौंफ का सेवन करने से भी ब्रैस्ट मिल्क को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो ये कुछ तरीके है जिनका इस्तेमाल करने से महिला के स्तनों में दूध की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है, इसके साथ महिला को तनाव नहीं लेना चाहिए, क्योंकि जो महिलायें ज्यादा तनाव लेती है उनके स्तनों में न तो दूध अच्छे से उतर पाता है, और समय से पहले सूख भी जाता है, इसके अलावा आप चाहे तो इस बारे में किसी नर्स से भी संपर्क कर सकती है, और इस बारे में अच्छे से जानकारी ले सकती है।

इन्हे भी पढ़ें:- दूध पिलाने से स्तन में दर्द रहता है? तो इन्हें अपनाएं

[Total: 3    Average: 3.7/5]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *